लगातार छठी बार इंदौर बना देश का सबसे स्वच्छ शहर

Follow us on

लगातार छठी बार इंदौर बना देश का सबसे स्वच्छ शहर

Swachh survekshan 2022:-भारत सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान 2022 के तहत एक अक्टूबर को स्वच्छता रैंकिंग का ऐलान किया गया। जिसमे मध्यप्रदेश के इंदौर शहर को छठी बार पहला स्थान मिला है। वहीं मध्य प्रदेश को बड़े राज्यों में पहला स्थान दिया गया है। त्रिपुरा छोटे राज्यों में पहले स्थान पर है।

दिल्ली के ताल कटोरा स्टेडियम में यह कार्यक्रम आयोजित की गई थी जिसमे राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने इंदौर को यह अवार्ड दिया है।राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सभी विजेताओं शहरों को बधाई देते हुए इंदौर मॉडल पूरे देश में लागू करने की जरूरत बताई। आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने बताया कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 पुरस्कार में मध्य प्रदेश के इंदौर को लगातार छठी बार भारत के सबसे स्वच्छ शहर के रूप में स्थान दिया गया है।

केंद्र के वार्षिक स्वच्छ सर्वेक्षण में इंदौर को लगातार छठी बार सबसे स्वच्छ शहर चुना , जबकि सूरत और नवी मुंबई ने क्रमश: दूसरा तथा तीसरा स्थान हासिल किया। ‘स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2022’ में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले राज्यों की श्रेणी में मध्य प्रदेश ने पहला स्थान हासिल किया है, इसके बाद छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र का स्थान है। इंदौर और सूरत ने इस साल बड़े शहरों की श्रेणी में अपना शीर्ष स्थान बरकरार रखा, जबकि विजयवाड़ा ने अपना तीसरा स्थान गंवा दिया और यह स्थान नवी मुंबई को मिला।

100 शहरी स्थानीय निकायों से कम वाले राज्यों में त्रिपुरा ने शीर्ष स्थान हासिल किया।
एक लाख से कम जनसंख्या वाले शहरों की कैटेगरी में महाराष्ट्र के पंचगनी (Panchgani) ने पहला स्थान हासिल किया जिसके बाद छत्तीसगढ़ का पाटन और फिर महाराष्ट्र का ही करहड़ (Karhad) रहा।
1 लाख से अधिक जनसंख्या वाली कैटेगरी में हरिद्वार (Haridwar) को सबसे साफ गंगा शहर का सम्मान मिला। हरिद्वारा के बाद वाराणसी और फिर ऋषिकेश को यह सम्मान मिला।
एक लाख से कम जनसंख्या वाले गंगा टाउन में बिजनौर अव्वल रहा। इसके बाद कन्नौज और फिर गढ़मुक्तेशवर को स्थान दिया गया है।
सर्वे में महाराष्ट्र के देवलाली (Deolali) देश का सबसे साफ कैंटोनमेंट बोर्ड रहा।

Leave a Comment

This site is protected by reCAPTCHA and the Google Privacy Policy and Terms of Service apply.