International women’s day 2020 essay and celebration ideas in Hindi

About International Women’s Day-अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस

International women’s day 2020 essay and celebration ideas in Hindi

8 मार्च को समस्त दुनिया के सभी देश इंटरनेशनल विमेंस डे मनाते है | यह देश के सभी महिलाओं का मुख्य अधिकार है | 8 मार्च को देश के तमाम हिस्से में महिलाओं के अधिकार उनकी ख़ुशी , उनकी सम्मान और उनकी सुरक्षा को लेकर कई तरह के प्रोग्राम आयोजित किए जाते है |

सोसोलिस्ट पार्टी ऑफ़ अमेरिका ने सबसे पहले  28 फरवरी 1909 को न्यूयोर्क में सबसे पहले इंटरनेशनल विमेंस डे मनाया था | उसके बाद जर्मनी और रूस ने इसकी पहल की थी | लेकिन अब विश्व के हरेक देशों ने इसे मनाने का प्रण लिया है | लेकिन 1977 से United Nation ने आधिकारिक रूप से इसे मानाने की सहमति दे दी | लेकिन रूस ने 1917 में इस दिन को अवकाश घोषित किया आउट तब से सभी देश इस दिन अवकाश रखते है |

पढ़ें- अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर निबंध

लेकिन सबसे पहले अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने का विचार जर्मनी की क्लारा जेडकिंट के मन में 1910 में आया | और उसने यह विचार सबके सामने रखा कि दुनिया भर की महिलाओं को अपने विचारों को रखने के लिए अंतर्राष्ट्रीय दिवस मनाने की योजना बनानी चाहिए। जिससे उसे सम्मान भी मिले और उसकी सुरक्षा की गारंटी भी |

जरूर पढ़ें- भारतीय नौसेना का महत्व हिंदी निबंध

इंटरनेशनल विमेंस डे मनाने का मुख्य उद्देश्य है की उन्हें वोट देने का अधिकार मिले| क्योकि अधिकतर देशों में महिलाओं को वोट देने का अधिकार नहीं था | तभी उसे सभी अधिकार दिया जाएगा | तभी उसे वो सभी मिलगे जिसकी वो हकदार है जैसे उसे सम्मान तथा सुरक्षा का अधिकार | जब रूस में जार की सत्ता का अंत हुआ तो वहां के महिलाओं को वोट देने का अधिकार दिया गया | जूलियन कैलेंडर और ग्रेगेरियन कैलैंडर के अनुसार विमेंस डे अलग अलग दिन होता था | इसलिए सभी देशों ने ग्रेगेरियन कैलैंडर को ही अपनाया | लेकिन महिला दिवस की तारीख को साल 1921 में फाइनली बदलकर 8 मार्च कर दिया गया। इस प्रकार तब से महिला दिवस पूरी दुनिया में 8 मार्च को ही मनाया जाता है।

Spread the love

Leave a Comment

1 × 5 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.