Spring Season Essay in Hindi-वसंत ऋतु पर निबंध हिंदी मे

Essay on spring season in Hindi 100 words

भारत में मौसम और जलवायु के अनुसार चार ऋतुऒ में बांटा गया है , वसंत ऋतु उनमें से एक है । यह ऋतु बहुत ही मनोहारी और आनंदायक होती है । यह बहुत ही मनभावन ऋतु होती है , क्योकि इस ऋतु में बगीचे की रौनक देखते ही बनती है ।

चारो ऒर पक्षियों की कलरव की ध्वनि गुंज उठती है । कोयल की मधुर मुस्कान और उसकी मन को मोहक आवाज से हमे घायल कर देती है ।

इस ऋतु का आगमन वसंत पंचमी के बाद से ही आती है । बाग-बगीचे में सभी पेड फ़ुल से लद जाते है ।

Spring season Essay in Hindi 200 words


वसंत ऋतुओ का राजा है । यह ऋतु बहुत ही मनमोहक और आनंदायक होता है । इस ऋतु में मौसम भी सम-शीतोषण रहता है यानी न ज्यादा गर्मी या न ज्यादा ठंढा ।

इस ऋतु के आने से पेड-पौधे सभी जगह फ़ल-फ़ुलों से लद जाते है। जिससे चारो तरफ़ वातावरण में खुशबु बिखेर जाती है । कौयल की कुहु-कुहु की मधुर आवाज मन को भाव-बिभोर कर देती है ।

इस ऋतु का आगमण वसंत ऋतु के आने के बाद से ही होता है । सरस्वती पुजा इसी ऋतु में होता है । इस ऋतु के आने से प्रकृति में नई जान आ जाती है । नव उर्जा का संचार होता है ।

पेडों के पुराने पते झड जाते है और उसके जगह पर नये पते आ जाते है । आमों के पेड पर मंजरी से लद जाते है . उस फ़ुल को चुसने के लिए भंवरे पागल रहते है । आम के पेडों पर मंजरी आ जाती है . और सभी आम का आनंद लेते है ।

यह ऋतु सभी ऋतुऒ का राजा है । और अपने राजा के स्वागत के लिए प्रकृति हांथ जोडे खडी रहती है ।

Essay on spring season in Hindi 300 words

वसंत ऋतू सभी ऋतुओ का राजा होता है और वर्षा ऋतू ऋतुओ की रानी है । यह ऋतू बहुत ही मनमोहक और मनहारी होती है । हिंदी महीने के अनुसार इस ऋतू का आगमन माघ महीने के वसंत पंचमी के बाद से ही होता है । लेकिन अगंरेजी महीने के अनुसार देखा जय तो इस ऋतू का आगमन फेब्रुअरी महीने में होता है और अप्रैल तक रहता है ।

इस ऋतू में मौसम में अमूल परिवर्तन दीखता है । धरती पर चारो तरफ खशबू और हरियाली तथा रंग-बिरंगी फूलों से पेड़ पौधे लड़ जाते है । मौसम में बहुत रंगीला और मदमस्त हो जाता है । मानो प्रकृति अपने राजा की तैयारी के लिए इतना कुछ कर रही है । पशु पक्षी भी बहुत खुश नजर आते है ।

कोयल ऋतुओ के राजा की तैयारी के लिए अपने मधुर आवाज से सबको मदमस्त कराती है । साथ ही कई पक्षी अलग अलग तरह के राग अलापते है ।

खेतों में भी सरसों, गेहूं आदि कई तरह के फसल लहलहा उठते है जो प्रकृति की सुंदरता और बढ़ाते है । इस मौसम में मौसम में हर रोज नया परिवर्तन होता है जो बहुत ही आनंदायक होता है ।

Disqus Comments Loading...

This website uses cookies.