01 April 2022 Current Affairs in Hindi | 01 अप्रैल 2022 करंट अफेयर्स

01 April 2022 Current Affairs in Hindi | Daily Current Affairs

We bring in 01 April 2022 Current Affairs in Hindi latest updated News analysis, which will guide you always to be number one. Important points are very helpful for your Competitive Examination like as. SSC, SSC CGL.RRB.Banking etc.

Q1. राष्ट्रीय सिख दिवस मनाने की घोषणा कब हुई ?
Ans:-भारतीय मूल के अमेरिकी सांसद राजा कृष्णमूर्ति सहित 12 से अधिक सांसदों ने 14 अप्रैल को ‘राष्ट्रीय सिख दिवस’ घोषित करने को लेकर प्रतिनिधि सभा में एक प्रस्ताव पेश किया है।

Q2. फास्टर’ सॉफ्टवेयर का शुभारंभ किसने और क्यों किया ?
Ans:- प्रधान न्यायाधीश एन वी रमण ने इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से अदालत के आदेशों को तेजी से और सुरक्षित प्रसारित करने वाले एक सॉफ्टवेयर का शुभारंभ इसलिए किया ताकि इससे न्यायिक आदेशों को तत्काल प्रसारित करने में मदद मिलेगी। सीजेआई रमण के साथ न्यायमूर्ति ए एम खानविल्कर, न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता और उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीश तथा न्यायाधीश ‘फास्ट एंड सिक्योर्ड ट्रांसमिशन ऑफ इलेक्ट्रॉनिक रिकॉर्ड्स’ (फास्टर) सॉफ्टवेयर के ऑनलाइन उद्घाटन के मौके पर सभी मौजूद रहे।

Q3. हाल में भारत के कानून मंत्री ने न्याय विभाग के लिए कौन सी नई वेबसाइट शुरु की ?
Ans:- कानून मंत्री श्री किरेन रिजीजू ने बुधवार को न्याय विभाग की नई वेबसाइट की शुरुआत की। नई वेबसाइट पर छह उच्च न्यायालयों की कार्यवाही का सीधा प्रसारण देखा जा सकेगा। इससे परस्पर संवादात्मक और नागरिक केंद्रित सेवाओं तक बेहतर पहुंच प्रदान करती है। वेबसाइट पर गुजरात, ओडिशा, कर्नाटक, झारखंड, पटना और मध्यप्रदेश उच्च न्यायालयों की अदालती कार्यवाही की ‘लाइव स्ट्रीमिंग’ (सीधा प्रसारण) देखी जा सकती है। साथ ही, इस पर उच्च न्यायालयों के आदेश और निर्णय भी उपलब्ध होंगे।

Q4. उत्कल दिवस कब और क्यों मनाया जाता है?
Ans:- उत्कल दिवस या उड़ीसा दिवस 1 अप्रॅल को मनाया जाता है। 1 अप्रॅल सन 1936 को ओडिशा को स्वतंत्र प्रांत बनाया गया। स्वतंत्रता के बाद ओडिशा तथा इसके आसपास की रियासतों ने भारत सरकार को अपनी सत्ता सौंप दी। रियासतों (गवर्नर के अधीन प्रांतों) के विलय संबंधी आदेश 1949 के अंतर्गत जनवरी 1949 में ओडिशा की सभी रियासतों का ओडिशा राज्य में सम्पूर्ण विलय हो गया। ओडिशा के कलिंग, उत्कल और उद्र जैसे कई प्राचीन नाम हैं, परन्तु यह प्रदेश मुख्यत: भगवान जगन्नाथ की भूमि के लिए प्रसिद्ध है। भगवान जगन्नाथ ओडिशा के सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक जीवन से बहुत गहरे जुड़े हुए हैं। विभिन्न समय में ओडिशा के लोगों पर जैन, ईसाई और इस्लाम धर्मो का प्रभाव पड़ा। इसी याद में ‘उत्कल दिवस’ मनाया जाता है।

Related post.

Spread the love

Leave a Comment

17 − 1 =

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.