Mahatma Gandhi Biography, wiki and Life History in Hindi

Mahatma Gandhi Biography in Hindi (महात्मा गांधी की जीवनी पर निबंध)

हमारा भारत देश अंग्रेजों के अधीन था । ऎसे में कई महापुरुषों ने देश को मुक्त कराने के लिए जी जान से अंग्रेजी हुकुमत के खिलाफ़ बगावत किया। But उन सबमें महात्मा गांधी का नाम सर्वोपरि है ।

महात्मा गांधी स्वतंत्र भारत के एक महान स्वतंत्रता सेनानी थे । जिन्होने अपने देश की आजादी के लिए अपना सबकुछ समर्पण कर दिया । उनहोने अंग्रेजी हुकुमत के खिलाफ़ जमकर मुकाबला किया, जिसके बदौलत हम आजादी के 71 वां साल मना चुके है ।

महात्मा गांधी के बारे में कुछ महत्वपुर्ण जानकारियां (Information about Mahatma Gandhi)

पूरा नाम (Name)मोहनदास करमचंद गाँधी
निक नाम (Nick Name)महात्मा गांधी, बापू जी, गांधी जी
जन्म तिथि(Birth Date)02 अक्टूबर 1869
जन्म स्थान (Birth Place)पोरबंदर, काठियावाड, गुजरात, ब्रिटिश भारत
मृत्यु (Death)30 जनवरी 1948
मृत्यु-स्थान (Death Place)नई दिल्ली , भारत
आयु (Age)78 बर्ष (मृत्यु के समय)
मृत्यु का कारण(Death Reason)हत्या
स्मारक/ समाधि स्थल(Monuments)राजघाट, गांधी स्मृति, नई दिल्ली , भारत
राष्ट्रीयता (Nationality)भारतीय
पेशा (Profession)वकील, राजनेता और लेखक
राजनीतिक पार्टी (Political Party)भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
जाति(caste)गुजराती हिन्दू बनिया
धर्म (Religion)हिन्दू
पिता का नाम (Fathers Name)करमचंद गाँधी (दीवान)
दादा का नाम (Grandfather Name)उतमचन्द गांधी
माता का नाम(Mothers Name)पुतलीबाई गांधी
भाई बहनलक्ष्मीदास और रलियातबेन
वैवाहिक स्थिति(Marital Status)विवाहित
पत्नी (Wife/Spouse)कस्तुरवा गांधी (14 बर्ष की आयु में)
बच्चे का नाम (Childrens)हरीलाल, मन्नीलाल, रामदास और देवदास
शिक्षा (Education)कानुन की पढाई (लंदन)
पत्रिकाएँहरिजन, इंडियन ओपिनियन, यंग इंडिया तथा नवजीवन
प्रकाशित पुस्तकेंहिंद स्वराज, दक्षिण अफ्रीका के सत्याग्रह का इतिहास, सत्य के प्रयोग (आत्मकथा), तथा गीता माता , महात्मा गांधी के विचार, मेरे सपनों का भारत
पसंदीदा पहनावाधोती और शाल
लम्बाई164 सेंटीमीटर
वजन62 किलोग्राम
भोजनशाकाहारी
सम्मान(Honour)राष्ट्र पिता

महात्मा गांधी का प्रारंभिक जीवन (Mahatma Gandhi Early Life)

उन्होंने अहिंसा आंदोलन के द्वारा अंग्रेजो से भारत को आजादी दिलाई | इनके मजबूत इच्छा शक्ति और दृढ शक्ति के बल पर इन्होने भारत से ब्रिटिश शासन का अंत करा दिया |

इन्होने अहिंसा का रास्ता अपनाया |इन्होने सत्य और अहिंसा के बल पर भारत को आजादी दिलाई | और भारत का नाम पूरी दुनिया में रौशन किया | और लोगो को भी आग्रह किया की आप भी मेरे बताए हुए कदम पर चलें | और जनता को उसकी अधिकारों को याद दिलाया |

इनका जीवन सत्य और सदाचार में ही बिताया | इन्हे भारत का राष्ट्रपिता कहा जाता है | इन्होने सदा अपना जीवन एक तपस्वी के भाटी और सदाचार में ही बिताया | इनके सत्य और अहिंसा के आचरण को देखते हुए इन्हे महात्मा कहकर पुकारते है |

हम समस्त भारतवासी इनके बलिदान और इनके सत्य सहिंसा को याद में २ अक्टूबर को इनकी जन्म दिन को गाँधी जयंती के रूप में मनाते है |ये हम सभी मानव जाती के लिए एक मिशाल है |

इन्होने कोई भी परिस्थिति हो हमेशा सत्य और अहिंसा का ही पालन किया | ये हमेशा परम्परागत भारतीय पोषक धोती और शाल ओढ़ते थे | २ अक्टूबर को पुरे विश्व में अहिंसा दिवस के रूप में मनाते है |

इन्होने अपना जीवन में सदैव सदाचार से व्यतीत किया | इन्होने हमेशा देश सेवा में अपने जीवन को समर्पित कर दिया |Therefore उसके अंदर परोपकारिता कूट-कूटकर भरी थी |

जब वे दक्षिण अफ्रीका में वकालत कर रहे थे | तब इन्होने वहां रह रहे भारतीय समुदाय के लोगों के नागरिक अधिकार के लिए बहुत संघर्ष किया | वहां रह रहे किसानों , मजदूरों तथा शहरी श्रमिकों को अत्यधिक भूमि कर तथा भेदभाव के विरुद्ध आवाज उठें में एकजुट किया |

Disqus Comments Loading...

This website uses cookies.